हमारे गौरव

""हमारे गौरव""

जैसा कि हम सब जानते हैं कि समाज का नेतृत्व करने वाला व्यक्ति ज़रूरी नहीं कि राजनेता ही हो ? हमारा विचार है कि वो लोग जो हमारे ही समाज के नहीं समग्र समाज के अगुवा रहे और उनका योगदान भी समग्र को रहा है, पर बहुत सारे लोग उनके योगदान को नहीं जानते ? उनके योगदान जो उस समाज के अनेक कार्यों में वो लोग जो विभिन्न स्तरों पर बेईमान रहे, समाज में भेदभाव पैदा किये प्रतिभओं का हनन किए जबकि वे समाज के दर्प बने हुये हैं।


समाज में सांस्कृतिक सरोकारों के सम्वाहक उस तरह के मज़बूत आधार होते हैं जिससे ज्ञान विज्ञान कला संगीत और साहित्य के वग़ैरह हम उन्हें नहीं समझ पायेंगे जो हमारे लिये एक जगह बनाने में सहयोग किये हैं, हम एक अभियान चलाकर जब तक उन्हें एवं उनके कार्यों को आगे नहीं लाएंगे तो पिढि़यां ही नहीं हमारी पीढि़यां ही उनके योगदान को भूल जाएंगी। इसी श्रृंखला में हम उन लोगों को आगे लायेंगे जिनका योगदान हमारे समाज के लिये रहा है।


आप के पास एसे लोगों के चित्र और जो भी डिटेल है हमें दीजिये हम उनको इसी तरह प्रस्तुत करेंगे।

सादर
डा.लाल रत्नाकर
स्ंयोजक 
सांस्कृतिक प्रकोष्ठ
अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा













कोई टिप्पणी नहीं:

समर्थक