02/01/2010


चंद्रजीत यादव की ८३ वी पुण्य तिथि पर 'सामाजिक न्याय आन्दोलन' की ओर से एक सेमिनार आयोजित किया गया जिसमे "सामाजिक न्याय - दिशा और दशा" पर आयोजित सेमिनार में देश के तमाम बुद्धिजीवियों ने अपने विचार रखे .




इस आयोजन की गरिमा इस लिए भी बढ़ी की माननीय चंद्रजीत यादव के सुपुत्र ने पीछे रहकर सारे कार्यों को अंजाम दिये. उदय प्रताप सिंह जी ने पूरे समय तक बहुत गंभीर तरीके से अपने वक्तब्य को बहुत लम्बा न खीचते हुए काब्यात्मक तरीके से रखे .



2 टिप्‍पणियां:

dhiru singh {धीरू सिंह} ने कहा…

84 va janamdin ya puny tithi . ........

बेनामी ने कहा…

Janmdin

समर्थक