10 जन॰ 2010

मुन्ना भाई का आना जाना 'समाजवादी पार्टी से'


जिस संजय दत्त को लोग सिनेमा में देखते है 'जरुरी नहीं ओ 'वोट' कर देते प्रोफ.राम गोपाल इन सबकी औकात जानते है' तो मुन्ना भाई का आना जाना 'समाजवादी पार्टी से' कोई मायने नहीं रखता. अब यह साबित हो गया है की अमर सिंह कोई जादूगर नहीं है जो सरकार बनवाते या बिगाराते है हा "मुलायम सिंह को जितना बिगाड़ना था बिगाड़ दिये" सो  प्रोफ.राम गोपाल यादव कब तक सब्र करते "फ़िल्मी समाजवादी पार्टी" बनाने या "पूंजीवादी समाजवादी पार्टी" बनाने के लिए अमर सिंह आये थे जो भी हो अच्छा है जाये और जल्दी करें .
-संपादक  


कोई टिप्पणी नहीं:

समर्थक