29/06/2010

महगाई पर 'भारत बंद'
(बी एस पी) को छोड़ बाकि सबका 'कांग्रेस' के खिलाफ आन्दोलन .
डॉ.लाल रत्नाकर
महगाई महगाई 'कैसी महगाई' पेट्रो पदार्थों पर कीमत क्या बढ़ी चारों तरफ महगाई की मार शुरु हो गयी, भाजपा और वामदल एक साथ आन्दोलन करने जा रहे है, पर सबसे आश्चर्य जनक है समाजवादी व् राजद भी इनके साथ है.
महिला आरक्षण 
जाति आधारित जनगणना 
ऊपर के ये दो एसे सवाल है जहाँ समाजवादी और राजद के खिलाफ सारे दल के शीर्ष लोग थे पर उनके भीतर ओ.बी.सी.की आवाज कुछ मामलों पर  इनके साथ जुरूर बाहर आयी थी पर सारा वामदल जिस तरह मौन रहा है ऊपर के दोनों मामलों में. उससे क्या सबक लिया है समाजवादी और राजद के नेताओ ने यही कारण है इन दलों का जो कभी नियति और नीति में साफ नहीं होते.
यद्यपि कांग्रेस जो कुछ कर रही है उससे भाजपा का ही फायदा हो रहा है तमाम विरोधी तो कुछ समझ ही नहीं पा रहा है कि देश में क्या हो रहा है , 
उन्हें कहाँ खड़ा होना है उनकी क्या नीति है ? उन्हें यही नहीं समझ आ रहा है. कांग्रेस को देश को लूटने के आरोप से बरी हो पाई है या नहीं इसके   हिसाब किताब में ही इन्हें सारा समय बर्बाद करना पड़ रहा है. जिसमे हर आदमी लूट रहा है और सरकार लूटने में लगी है. पूंजीपतियों कि झोली को भरने के लिए. 
महगाई 
दालों कि कीमत 
पेट्रो पदार्थ की कीमत में बृद्धि .

कोई टिप्पणी नहीं:

समर्थक