30/08/2012

हैं जिसमें उनके कई मंत्री भी हैं।-डॉ लाल रत्नाकर .


तीसरे मोर्चा खड़ा करने में जुटे मुलायम
Updated on: Thu, 30 Aug 2012 08:56 PM (IST)
mulayam singh yadav will protest tommorrow
तीसरे मोर्चा खड़ा करने में जुटे मुलायम
नई दिल्ली [जागरण ब्यूरो]। अगला लोकसभा चुनाव भले ही दूर हो, लेकिन 2014 से बड़ी उम्मीद लगाए सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने संभावित 'तीसरा मोर्चा' का ताना-बाना अभी से बुनना शुरू कर दिया है। शुरुआत फिलहाल, कोयला ब्लॉक आवंटन में गड़बड़ी के खिलाफ समान सोच वाले दलों की एकजुटता से हुई है,लेकिन यह यहीं नहीं रुकेगा। दिलचस्प पहलू यह भी है कि मुलायम की इस रणनीति से कांग्रेस भी असहज नहीं महसूस कर रही है।
सूत्रों के मुताबिक, वामदलों, गैर कांग्रेस व गैर भाजपा कुछ दलों को सपा के साथ विश्वास का संकट हो सकता है, फिर भी मुद्दों के आधार पर वे मौजूदा दोस्ती को जरूरी मान रहे हैं। इन दलों की उसी सोच का नतीजा है कि सपा, माकपा, भाकपा, तेलगू देशम पार्टी ने बैठक करके कोयला ब्लॉक आवंटन में गड़बड़ी की न्यायिक जांच और संसद का गतिरोध दूर करने के लिए हाथ मिला लिया। खास बात यह है कि दोस्ती का यह सिलसिला आगे भी जारी रखने पर ये दल राजी हो गए हैं, जबकि, दूसरे दलों को जोड़ने की भी संभावनाएं तलाशी जाने लगी हैं। यह पूछने पर कि इस नए गठजोड़ की आगे की रणनीति क्या है? मुलायम से कहा, 'यह शुरुआत है। अब हम आगे भी बैठकें करके रणनीति बनाते रहेंगे'। संकेत साफ हैं कि सब कुछ ठीक रहा तो अब इस दोस्ती को बनाए रखा जाएगा।
दरअसल, कुछ महीने पहले तक देश में मध्यावधि चुनाव की संभावना जताने वाली सपा अब 2014 में ही चुनाव मानकर चल रही है। ऐसे में उसे तीसरे मोर्चे की जमीन तैयार करने के लिए यह मौका सबसे मुफीद लग रहा है। एक तरफ वह 80 लोकसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश में अभी से अपने प्रत्याशी तय कर रही है तो दूसरी तरफ समान विचारधारा वाले दलों की एकजुटता के जरिए केंद्रीय राजनीति में अपनी अहमियत भी साबित कर रही है।
मुलायम की इस रणनीति का दिलचस्प पहलू यह है कि वे कांग्रेस को भी नहीं अखर रहे हैं, बल्कि उसकी मदद ही कर रहे हैं। खुद सोनिया गांधी और उनके पुत्र राहुल गांधी को रायबरेली और अमेठी में उनकी राजनीतिक जमीन उर्वर करने के लिए उनकी मांग पर वहां चौबीसों घंटे बिजली दिला रहे हैं। मुलायम के लिए सरकार के दिल में कितनी जगह है, इसका अंदाजा केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के एक जवाब से लगाइए। पूछा गया कि मुलायम ने कोल ब्लॉक में गड़बड़ी की न्यायिक जांच की मांग की है। सलमान ने कहा, 'सम्मानित नेता हैं। अपनी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। मैं समझता हूं उनकी किसी बात का जवाब राष्ट्रीय अध्यक्ष के स्तर से ही आना चाहिए'।

कोई टिप्पणी नहीं:

समर्थक