19 अक्तू॰ 2013

फिर पुराने मंत्रालय पर राज करेंगे राजा भैया

फिर पुराने मंत्रालय पर राज करेंगे राजा भैया

सीबीआई से क्लीन चिट मिलने के लंबे अंतराल बाद सपा को राजा भैया को अभी कुछ ही दिन पहले मंत्रिमंडल में वापस बुला लिया गया था।
उनकी ताजपोशी तक यह तय नहीं था कि उन्हें कौन सा विभाग दिया जाएगा। अटकलें थीं कि उन्हें उनका पुराना विभाग खाद्य एंव रसद विभाग दिया जा सकता है।
इस अटकल पर सरकार ने शनिवार को मुहर लगा दी और राजा भैया को यह विभाग दे दिया। इससे पहले यह विभाग राजेंद्र चौधरी के पास था, लेकिन अब उनके पास सिर्फ जेल एवं कारागार विभाग ही रहेगा।
पढ़ें-एक बार फिर राजा बन गए वजीर
राजा भैया ने कुंडा में सीओ जियाउल हक की हत्या के बाद चार मार्च 2013 को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। राज्य सरकार ने इस केस की जांच सीबीआई को सौंपी थी।
सीबीआई ने एक अगस्त को राजा भैया को क्लीन चिट देते हुए फाइनल रिपोर्ट दाखिल कर दी थी। इसी के बाद से उन्हें फिर से कैबिनेट में शामिल किए जाने की संभावना जताई जा रहीं थी।
पढ़ें- राजा भैया के इंतजार में 'अग्निपथ'
मुजफ्फरनगर हिंसा के बाद दो राजपूत विधायकों पर रासुका लगाने और ठाकुर चौबीसी के खेड़ा गांव में महापंचायत पर फायरिंग-लाठीचार्ज के बाद क्षत्रियों की नाराजगी को देखते हुए राजा भैया को सरकार में शामिल किए जाने की चर्चाएं और तेज हो गईं थी।
प्रसंगवश ;
राजाभैया/भोदूभैया/तोदुभैया ..................................................
राजपूत कबसे हिमायती हो गया माननीय यादव जी का परन्तु इनका  

कोई टिप्पणी नहीं:

समर्थक